Ground-Breaking Reality of Life… Motivational Thought… Don’t skip atleast read once & then share it!!

MUST READ ONCE AND SHARE IT
जोचाहाकभीपायानहीं

जोपायाकभीसोचानहीं

जोसोचाकभीमिलानहीं

जोमिलारासआयानहीं

जोखोयावोयादआताहैपरजोपायासंभालाजातानहीं

क्योंअजीबसीपहेलीहैज़िन्दगीजिसकोकोईसुलझापातानहीं… 

जीवनमेंकभीसमझौताकरनापड़ेतोकोईबड़ीबातनहींहै

क्योंकि, झुकतावहीहैजिसमेंजानहोतीहै, अकड़तोमुरदेकीपहचानहोतीहै।

 ज़िन्दगीजीनेकेदोतरीकेहोतेहै! पहला: जोपसंदहैउसेहासिलकरनासीखलो.! 

दूसरा: जोहासिलहैउसेपसंदकरनासीखलो.! 

जिंदगीजीनाआसाननहींहोता; बिनासंघर्षकोईमहाननहींहोता.! 

जिंदगीबहुतकुछसिखातीहै; कभीहंसतीहैतोकभीरुलातीहै

परजोहरहालमेंखुशरहतेहैं; जिंदगीउनकेआगेसरझुकातीहै। 

चेहरेकीहंसीसेहरगमचुराओ; बहुतकुछबोलोपरकुछनाछुपाओ

खुदनारूठोकभीपरसबकोमनाओ; राज़हैयेजिंदगीकाबसजीतेचलेजाओ। 

गुजरीहुईजिंदगीकोकभीयादकर, तकदीरमेजोलिखाहैउसकीफर्यादकर… 

जोहोगावोहोकररहेगा, तुकलकीफिकरमेअपनीआजकीहसीबर्बादकर… 

हंसमरतेहुयेभीगाताहैऔरमोरनाचतेहुयेभीरोताहै…. 

येजिंदगीकाफंडाहैबॉसदुखोवालीरातनिंदनहीआतीऔरखुशीवालीरात .कौनसोताहै… 

ईश्वरकादियाकभीअल्पनहींहोता; जोटूटजायेवोसंकल्पनहींहोता; हारकोलक्ष्यसेदूरहीरखना

क्योंकिजीतकाकोईविकल्पनहींहोता। 

जिंदगीमेंदोचीज़ेंहमेशाटूटनेकेलिएहीहोतीहैं

सांसऔरसाथसांसटूटनेसेतोइंसान 1 हीबारमरताहै

परकिसीकासाथटूटनेसेइंसानपलपलमरताहै। 

जीवनकासबसेबड़ाअपराधकिसीकीआँखमेंआंसूआपकीवजहसेहोना। 

औरजीवनकीसबसेबड़ीउपलब्धिकिसीकीआँखमेंआंसूआपकेलिएहोना। 

जिंदगीजीनाआसाननहींहोता; बिनासंघर्षकोईमहाननहींहोता; जबतकपड़ेहथोड़ेकीचोट

पत्थरभीभगवाननहींहोता।जरुरतकेमुताबिकजिंदगीजिओख्वाहिशोंकेमुताबिकनहीं। 

क्योंकिजरुरततोफकीरोंकीभीपूरीहोजातीहै; औरख्वाहिशेंबादशाहोंकीभीअधूरीरहजातीहै। 

मनुष्यसुबहसेशामतककामकरकेउतनानहींथकता; जितनाक्रोधऔरचिंतासेएकक्षणमेंथकजाताहै। 
दुनियामेंकोईभीचीज़अपनेआपकेलिएनहींबनीहै।जैसे: दरियाखुदअपनापानीनहींपीता। 

पेड़खुदअपनाफलनहींखाते।सूरजअपनेलिएहररातनहींदेता। 

फूलअपनीखुशबुअपनेलिएनहींबिखेरते।मालूमहैक्यों

क्योंकिदूसरोंकेलिएहीजीनाहीअसलीजिंदगीहै। 

मांगोतोअपनेरबसेमांगो; जोदेतोरहमतऔरदेतोकिस्मत; लेकिनदुनियासेहरगिज़मतमाँगना
क्योंकिदेतोएहसानऔरदेतोशर्मिंदगी। 

कभीभीकामयाबीकोदिमागऔरनकामीकोदिलमेंजगहनहींदेनीचाहिए। 

क्योंकि, कामयाबीदिमागमेंघमंडऔरनकामीदिलमेंमायूसीपैदाकरतीहै।

 कौनदेताहैउम्रभरकासहारा।लोगतोजनाज़ेमेंभीकंधेबदलतेरहतेहैं। 

कोईव्यक्तिकितनाहीमहानक्योंहो, आंखेमूंदकरउसकेपीछेचलिए। 

यदिईश्वरकीऐसीहीमंशाहोतीतोवहहरप्राणीकोआंख, नाक, कान, मुंह, मस्तिष्कआदिक्योंदेता

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s